अब शाहरुख़ के बाद आप, आमिर मियाँ..?

अब शाहरुख़ के बाद आप, आमिर मियाँ..?

 

प्रशांत पोळ

 

मियाँ आमिर,

शाहरुख़ और आप में बहुत फर्क नहीं हैं…

आप दोनों ने ही

इस वर्ष पचास बसंत पार किये हैं.

दोनों भी बॉलीवुड के सितारे हैं…

अकेले ट्वीटर पर आमिर मियाँ के

डेढ़ करोड़ से ज्यादा फोलोवर्स हैं, तो

शाहरुख़ के एक करोड़ तिरसठ लाख !

दोनों को हिन्दुस्तान के अवाम ने

भर भर के प्यार दिया हैं..

सर आँखों पे बिठाया हैं..!

दोनों की

अर्धांगिनीयां हिन्दू हैं…

(आमिर मियां, आपकी की तो दूसरी भी हिन्दू हैं..!)

इसलिए,

शाहरुख़ मियाँ को ये देश

असहिंष्णु लगा. . . .

तो मियाँ आमिर, आप

देश छोड़ने की बातें करने लगे…!!

—      —       —

आमिर मियाँ आप ने कहा की

पिछले सात / आठ महीनों से

आप देश में असुरक्षित महसूस कर रहे हैं.!

आप को डिप्रेशन आया हैं….

आप के बच्चे इस देश में सुरक्षित नहीं हैं

इसलिए आप की दूसरी अर्धांगिनी….

‘श्रीमती किरण राव – खान’

इस देश को छोडकर जाना चाहती हैं…!

—      —      —

मियाँ,

मैं सोचने लगा,

भारत को छोडकर कौन से देश में बसेंगे आप..?

अमेरिका में ?

जहां मियाँ शाहरुख़ के सारे कपडे उतारकर

उनकी तलाशी ली गयी थी..

जहां आये दिन स्कूलों में

सिरफिरे लोग

बेख़ौफ़ एके-४७ चलाकर

निर्दोष बच्चों को मार देते हैं..

आप के बच्चे सुरक्षित रहेंगे वहां..?

ना… ना…. वहां कैसे जायेंगे आप..?

शाहरुख़ ने ही कहा था ना,

‘खान’ सरनेम होना अमेरिका में गुनाह हैं..!

तो अमेरिका तो जाने से रहे..

फिर यूरोप ?

हसीन, मौज-मस्ती वाला फ़्रांस..?

अरे नहीं मियाँ…

वहां तो सरे आम बम फुट रहे हैं…

लाशे बिछ रही हैं..

और प्रतिक्रिया में

फ्रेंच सरकार

आतंकवाद फैलाने वाली मस्जिदों को

धराशायी कर रही हैं..

आप तो ठहरे हांजी..!

२०१२ में हज यात्रा कर आए हैं.

आप कैसे जायेंगे फ़्रांस में

या यूरोप में,

जहाँ हर जगह अशांति हैं,

दहशत हैं और

सीरिया के शरणार्थी हैं..!

जपान और चीन में तो आप जाने से रहे.

क्यूँ की वहां तो

इस्लाम का अस्तित्व ही मान्य नहीं हैं..!

तो फिर खाड़ी के देश ?

मियाँ आमिर,

वहां रहना आपके दुसरे धर्मपत्नी को चलेगा ?

सतत काले हिज़ाब में / बुर्के में

श्रीमती किरण राव-खान रह सकेंगी ?

नहीं ना…

तो फिर सीरिया, लीबिया, ईराक..

या अफगानिस्तान / पकिस्तान …

या आपके शिया समुदाय के बहुमत वाला ईरान..?

—      —       —

आमिर मियाँ,

सन २००५ में आपने

गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री

श्री नरेंद्र मोदी जी को

‘अमेरिका में प्रवेश न दिया जाय’

इस पिटीशन पर हस्ताक्षर किये थे.

फिर भी…

सारी कटुता भुलाकर

प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी जी ने

आपको अपने स्वच्छता मिशन का

प्रतिनिधि बनाया..

गले से लगाया . . .

फिर भी आप को डिप्रेशन आता हैं,

हमारे इस दिलदार देश में ?

—       —        —

मियाँ आमिर,

दाउद भाई का आर्थिक साम्राज्य

समाप्ति की ओर हैं…

आपका बड़ा पैसा वहां लगा हैं..

दाउद भाई आपके पैसों को

दो के चार बना देते हैं

और अब, जब आपका पैसा डूबने की कगार पर हैं,

तो आमिर मियाँ,

आपको देश छोड़ने की सूझी..?

जैसे एन्फोर्समेंट डायरेक्टरेट की नोटिस आने पर

शाहरुख़ मियाँ को अपना ये देश,

‘असहिष्णु’ लगने लगा था..!

—      —      —

जाइए आमिर मियाँ..

अपनी दूसरी धर्मपत्नी के साथ

अपने दूसरी पत्नी से हुए बच्चे के साथ …

दुनिया में

किसी सुरक्षित ठिकाने की खोज में

अवश्य जाइये…!!

अगर कल जा रहे हैं, तो आज ही जाइये..

जरा हिम्मत दिखाइये !

और ये सडा / गला / असहिष्णु / असुरक्षित / असंवेदनशील

देश छोड़ के जाइये..!

  • प्रशांत पोळ

 

 

 

Advertisements

Author: प्रशांत पोळ

I am an Engineer by profession. Consultant in Telecom and IT. Interested in Indology, Arts, Literature, Politics and many more. Nationalistic views. Hindutva is my core ideology.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s